30 C
Patna
October 25, 2020
Gadgets Tech टेक न्यूज टेक्नोलॉजी

Remove china App को Play Store से हटाने की बाद, गूगल ने बताया किस वजह से हटाया गया एप्प

why google removed remove china app

टेक। भारत और चीन के बीच सीमा पर तनातनी के दौरान चाइनीज प्रोडक्ट के बहिष्कार करने की मुहीम चल पड़ी है। इस बीच स्मार्टफोन से चीन में बने एप्प की पहचान कर उसे डिलीट करने के लिए एक एप्लीकेशन लांच किया गया। Remove China App नाम का एप्प काफी काम समय में ही भारत में फेमस हो गया। परन्तु चाइनीज एप की पहचान कर उसे स्मार्टफोन से डिलीट करने वाले एप्प को गूगल में अपने Play Store से ही डिलीट (Why google removed remove china app)कर दिया। इसको लेकर तमाम यूजर्स के मन में कई तरह के सवाल उठ रहे थे। हाल ही में Google ने इस पर सफाई देते हुए कहा – Remove China App को कंपनी के Deceptive Behaviour Policy के उल्लंघन का दोषी पाया गया। जिसकी वजह से उसे Play Store से हटा दिया गया।

यह भी पढ़ें : – जिओ ने धमाकेदार ऑफर किया लांच, 2 GB डाटा दे रहा रोजाना वो भी बिलकुल मुफ्त

Remove China App की लोकप्रियता का अंदाजा इसी से लगा सकते हैं, की इस एप्प को कुछ ही दिनों में 50 लाख से ज़्यादा लोगों ने अपने स्मार्टफोन में इंसटाल किया। इस एप्प को इंडियन फर्म OneTouchLabs ने बनाया था। इसे लांच हुए मुश्किल से एक ही हफ्ता बीता था। Remove China App मुख्यतः चीन में बनी एप्प की पहचान कर उसे डिलीट करता था। चाइनीज प्रोडक्ट के खिलाफ बने माहौल ने इस एप्प को जल्द ही पॉपुलर कर दिया।

यह भी पढ़ें : – शादी से पहले ही हार्दिक पांड्या की मंगेतर नताशा हुई प्रेग्नेंट, फोटो शेयर कर दी जानकारी

Why google removed remove china app

Google Play Store की पॉलिसी के अनुसार किसी अन्य एप्प को यूजर्स की डिवाइस के सेटिंग्स में बदलाव करने की इजाजत नहीं देता। मतलब की किसी थर्ड पार्टी एप्प को किसी अन्य एप्प को डिसेबल और डिलीट या फिर मोडिफाई करने की इजाजत नहीं देता है। Remove China App स पॉलिसी का उल्लंघन कर रहा था। जिसकी वजह से उसे Play Store से हटा दिया गया। हालांकि इसके बाद भी जिन जिन यूजर्स ने इस एप्प को इंस्टाल कर लिया है, वह इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे पहले MITRON एप्प को भी प्राइवेसी पॉलिसी का उल्लंघन करने की वजह से हटा दिया गया था। MITRON एप्प के डेवेलपर्स ने प्राइवेसी पालिसी को अपलोड नहीं किया गया था।

Loading...

संबंधित ख़बरे

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Loading...