30 C
Patna
August 13, 2020
Gadgets टेक न्यूज टेक्नोलॉजी

ट्राई ने लॉकडाउन में प्रीपेड प्लान की वैलिडिटी बढ़ाने के लिए टेलीकॉम कंपनियों को कहा

TRAI said increase prepaid validity in lockdown

टेक्नोलॉजी। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए केंद्र सरकार ने पुरे देश में 21 दिनों के लिए लॉकडाउन लागू कर दिया है। इस दौरान आवश्यक सेवा को छोड़कर सभी सेवाओं को बंद कर दिया गया है। अनिवार्य सेवाओं के दायरे में टेलीकॉम सेवा को भी रखा गया है। इस बीच ट्राई ने प्रीपेड प्लान की वैधता बढ़ाने के लिए टेलीकॉम कंपनियों (TRAI said increase prepaid validity in lockdown) को कहा है। साथ ही लॉकडाउन में ग्राहकों को निर्बाध सेवा देने के लिए कंपनियों ने कौन से कदम उठाये हैं, उसकी भी जानकारी मांगी है। ट्राई के इस निर्देश से सुदूर क्षेत्रों में रह रहे ग्राहकों को काफी सुविधा होगी। जो लॉकडाउन होने की वजह से ऑफलाइन रिचार्ज कराने में असमर्थ थे। हालांकि इस बाबत टेलीकॉम कंपनियों ने क्या फैसला लिया इसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिली है।

यह भी पढ़ें : – बिना जांच किये बिहार में नहीं मिलेगी एंट्री, सभी सीमाएं सील, 5 km तक हजारों बिहारी इन्तजार में खड़े हैं

ट्राई (भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण) ने सभी टेलीकॉम कंपनियों से कहा – संचार व्यवस्था को निर्बाध रूप से जारी रखने के लिए, टेलीकॉम कंपनियों को अपने प्रीपेड ग्राहकों के प्लान की वैलिडिटी बढ़ाने समेत और भी कई आवश्यक कदम उठाने की आवश्यकता है। दरअसल पुरे देश में 21 दिनों के लॉकडाउन होने की वजह से अनिवार्य सेवाओं को छोड़कर सभी तरह की दुकानें बंद हैं। जिससे बाजार में मोबाइल के रिचार्ज कूपन और अन्य भुगतान विकल्पों की भारी कमी हो गयी है। ग्राहकों को निकट भविष्य में होने वाली परेशानी को मद्देनज़र रखते हुए ट्राई ने टेलीकॉम कंपनियों को यह निर्देश जारी किया है।

TRAI said increase prepaid validity in lockdown

यह भी पढ़ें : – लॉकडाउन में घर लौट रही किशोरी के साथ 10 दोस्तों ने किया गैंगरेप, दर्द से जंगल में हुई बेहोश, सुबह रेंगकर सड़क पर पहुंची

देश में लागू लॉकडाउन में टेलीकॉम सेवा को अनिवार्य सेवा के दायरे में रखा गया है। लेकिन प्रयाप्त मात्रा में दुकाने खुली नहीं होने की वजह से मोबाइल रिचार्ज कराने में ग्राहकों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। इस वजह से ट्राई ने टेलीकॉम कंपनियों को प्लान की वैलिडिटी बढ़ाने के लिए विचार करने के लिए कहा है। हालांकि ट्राई के इस निर्देश पर किसी भी टेलीकॉम कंपनी की प्रतिक्रया सामने नहीं आयी है।

Loading...

संबंधित ख़बरे

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Loading...