30 C
Patna
June 13, 2021
जुर्म राजस्थान

कलयुग – बहु के प्यार में पागल पिता ने बेटे को करंट लगाकर मौत की नींद सुलाया, बहु ने भी पति को रास्ते से हटाने में

father killed son for his wife

जोधपुर। अपने प्यार को पाने के लिए लोग रिश्तों की मर्यादा को तोड़ने से भी नहीं हिचकते। रिश्तों को कलंकित करने वाला यह मामला राजस्थान के जोधपुर की है। जहां अपनी बहु के प्रेम में पागल पिता ने खुद के बेटे को मौत की नींद (Father killed son for his wife) सुला दिया और इस घिनौने कार्य में बहु ने भी बखूबी साथ निभाया। पुलिस ने मामले की जांच करने के बाद ससुर और बहु को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों के मुताबिक़ दोनों के बिच काफी दिनीन से अवैध सम्बन्ध था। दोनों के संबंधों में बेटा रोड़ा बन रहा था, जिसे हटाने के लिए पिता ने बहु के साथ मिलकर साजिश को अंजाम दिया। दोनों ने नींद की गोलियां खिलाने के बाद करंट लगाकर मार दिया।

यह भी पढ़ें : – वृद्ध दम्पति की भूख से हुई मौत, खांसी होने पर बेटे और पड़ोसियों ने बना ली दुरी, अपनों की बेरुखी ने मौत का रास्ता दिखाया

Father killed son for his wife

आरोपियों ने पुलिस को बताया की ससुर और बहु के बीच काफी दिनों से अनैतिक सम्बन्ध चल रहा था। बेटे की पत्नी के साथ अवैध सम्बन्ध बनाते-बनाते वह उसके प्यार में पागल हो चुका था। वह बेटे की पत्नी के साथ ही जीवन बिताना चाहता था। इसके लिए दोनों ने मिलकर बेटे को रास्ते से हटाने की साजिश रची। देर रात को सम्बन्ध बनाने के बाद पत्नी ने शिकंजी में नींद की गोली मिलकर दे दी। बेटा जब गहरी नींद में सो गया तो, उसके हाथ-पैर को बाँध दिया, फिर करंट के तेज झटकों ने उसकी ज़िन्दगी ख़त्म कर दी।

यह भी पढ़ें : – 18 वर्षीया साली और सास के शव के साथ किया बलात्कार, अवैध सम्बन्ध के शक में पत्नी समेत सास और साली को दी दर्दनाक मौत

साजिश को अंजाम देने के बाद पिता ने इसे दुर्घटना में मौत की वजह बताकर बेटे को दफना दिया। घटना के 10 दिन बाद मृतक के भाई ने मृतक की पत्नी पर ह्त्या का शक जताया। इसके बाद पुलिस ने पूर्व तहसीलदार की उपस्थिति में शव को कब्र से बाहर निकलवाकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। उसके बाद मृतक की पत्नी से जब कड़ाई से पूछताछ हुई तो साजिश पर से पर्दा उठ गया। पुलिस ने ससुर और बहु को गिरफ्तार कर लिया।

Loading...

संबंधित ख़बरे

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Loading...