30 C
Patna
April 18, 2021
उत्तर प्रदेश जुर्म राज्य समाचार

हैवानियत – पत्नी के प्राइवेट पार्ट को ताम्बे के तार से सिलने के बाद पति फरार, अवैध सम्बन्ध के शक पर हैवानियत की हद पार कर दी

husband stitched wife private part

रामपुर। उत्तरप्रदेश के रामपुर जिले से इंसानियत को झकझोर देने वाली खबर सामने आयी है। यहां पति ने अपनी पत्नी के प्राइवेट पार्ट को ताम्बे के तार से सील दिया, फिर पत्नी को कमरे में बंद करने के बाद फरार हो गया। महिला चीख नहीं सके इसके लिए पति ने उसके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया था। बाद में महिला ने किसी तरह से खुद को आजाद कराया और पुलिस को सुचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया, जहां महिला की स्थिति (Husband stitched wife private part) स्थिर है। हालांकि उसके प्राइवेट पार्ट पर गहरे ज़ख्म हैं। पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़ें : – 15 साल की लड़की के साथ 18 युवकों ने 9 दिनों तक किया गैंगरेप, दर्द देने के लिए खेत और होटल में दर्जनों युवक एक साथ..

Husband stitched wife private part

पीड़ित पत्नी ने पुलिस को बताया की शनिवार को उसका पति घर पहुंचा और उसे पीटते हुए अवैध संबंधों के बारे में पूछने लगा। मैंने जब मना किया तो उसने मेरे हाथ-पैर को चारपाई के चारों कोनों से बाँध दिया। फिर कपडे फाड़ने के बाद ज़बरदस्ती सम्बन्ध बनाया और कई भद्दी गालियां देते हुए मेरे प्राइवेट पार्ट को चोट पहुंचाई। इसके बाद भी जब मैंने अवैध सम्बन्ध की बात नहीं कबूल की तो उसने ताम्बे के तार से मेरे प्राइवेट पार्ट को सील दिया। बेतहाशा दर्द से मेरी चीख बाहर ना जाए इसके लिए उसने मेरे मुंह में मेरे ही फाटे कपड़ों को ठूंस दिया।

यह भी पढ़ें : – 13 साल के बच्चे का लिंग परिवर्तन कराके 10 महीने तक गैंगरेप, जबरन बड़े लोगों के पास भेजकर गैंगरेप करवाया जाता था

पत्नी के साथ हैवानियत करने के बाद पत्नी के प्राइवेट पार्ट से बहते खून को देखकर आरोपी पति वहाँ से फरार हो गया। बाद में पत्नी ने मुंह से कपड़ा निकालकर पड़ोसियों को आवाज़ दी। पड़ोसियों ने महिला के हाथ-पैर खोले फिर पुलिस को सुचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला की शिकायत पर आरोपी पति के खिलाफ शिकायत दर्ज कर महिला को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। महिला की हालत स्थिर बतायी जा रही है। पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है।

Loading...

संबंधित ख़बरे

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Loading...