30 C
Patna
May 11, 2021
उत्तर प्रदेश जुर्म राज्य समाचार

16 वर्षीया लड़की के साथ बलात्कार करने के लिए देवर के साथ कमरे में बंद किया, 4 दिनों तक बलात्कार करने के बाद….

rape with teenager girl in mahoba

महोबा। वर्तमान में समाज में रहने वाले लोगों की सोच कितनी कुंठित हो चुकी है, इसकी बानगी है ये केस। यहां एक युवक ने भाभी के सामने किसी लड़की के साथ सम्बन्ध बनाने की फरमाईश कर दी, भाभी ने देवर की फरमाईश पूरी करने के लिए 16 साल की लड़की को चुना। 16 वर्षीया लड़की को बहला-फुसलाकर देवर के साथ कमरे में बंद कर दिया। जहां 4 दिनों तक बंधक बनाकर उसके साथ युवक ने बलात्कार (Rape with teenager girl in mahoba ) किया। बलात्कार के दौरान लड़की जब रोने लगती थी, तो भाभी उसे धमका कर चुप करा देती थी। शर्मसार करने वाली यह घटना उत्तर प्रदेश के महोबा के एक गाँव की है। कोर्ट ने भाभी को 7 साल तथा देवर को 10 साल की सश्रम कारावास की सजा सुनाई है।

यह भी पढ़ें : – “प्लीज भैया अब छोड़ दो” नाबालिग लड़की से 22 युवकों ने किया गैंगरेप, स्कुल के बाथरूम में लाइन लगाकर दरिंदों ने किया गैंगरेप

Rape with teenager girl in mahoba

यह मामला 26 जनवरी 2017 की है। उस दिन पीड़िता के गाँव में बरात आयी हुई थी। रात्रि करीब 11 बजे वह अपने माँ के साथ बरात देख रही थी। तभी पड़ोस में रहने वाली एक महिला 16 वर्षीया लड़की को बुलाकर अपने घर ले गयी। उस महिला ने लड़की को एक कमरे में बंद (Rape with teenager girl in mahoba ) कर दिया और फिर देवर को कमरे में भेज दिया। उस दरिंदे ने लड़की के जिस्म को नोचना शुरू कर दिया, बचने के लिए लड़की चिल्लाने लगी परन्तु बारात में बज रहे बाजे में उसकी चीखें दबकर रह गयी। लड़की के मुताबिक़ उस रात दरिंदे ने 4 बार से भी ज़्यादा उसके साथ बलात्कार किया था।

यह भी पढ़ें : – 14 साल की लड़की के साथ बलात्कार कर रहा था पति, दर्द से बिलबिला रही लड़की के मुंह को पत्नी ने दबा रखा था

लड़की ने आगे बताया की सुबह करीब 4 बजे आरोपी महिला उसके कमरे में आयी और देवर के साथ हंस-हंसकर रात के बारे में पूछने लगी। देवर के कहने पर महिला ने लड़की को बंधक बना लिया। अगले 4 दिनों तक उसके साथ कई बार दुष्कर्म (Rape with teenager girl in mahoba) किया गया। बलात्कार के दौरान जब वह दर्द से तड़पती थी, तो महिला हँसते हुए सहने के लिए कहती थी। लड़की से मन भर जाने के बाद देवर और भाभी ने जान से मार देने की धमकी देकर लड़की को छोड़ दिया।

यह भी पढ़ें : – युवती को प्रेमी के साथ सम्बन्ध बनाते हुए परिजनों ने पकड़ा, गुस्से में परिजनों ने युवती के हाथ-पैर बांधकर नहर में फेंका

लड़की की शिकायत पर पुलिस ने दोनों देवर भाभी को गिरफ्तार कर लिया था। सुनवाई के बाद अपर सत्र न्यायाधीश/ विशेष न्यायाधीश, पॉक्सो अधिनियम संतोष कुमार यादव ने फैसला सुनाया। भाभी को 7 साल तथा देवर को 10 साल की सश्रम कारावास की सजा सुनाई।

Loading...

संबंधित ख़बरे

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Loading...