30 C
Patna
December 3, 2020
IPL 2020 क्रिकेट खेल

नॉकआउट मैचों में फ्लॉप विराट कोहली कप्तानी छोड़ क्यों नहीं देते, 8 साल में एक भी ट्रॉफी नहीं जीत पाए

Gambhir on Kohli Captaincy

क्रिकेट। IPL 2020 में अन्य टीमों के ख़राब प्रदर्शन और किस्मत के सहारे प्लेऑफ में पहुंची रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु की टीम सनराइजर्स हैदराबाद से हारकर बाहर हो गयी। इसके साथ ही कोहली की कप्तानी में खेल रही रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु का सफर IPL 2020 में भी समाप्त हो गया। एलिमिनेटर मुकाबला गंवाने के साथ ही कोहली की टीम का आईपीएल जीतने का सपना भी tut गया। आपको बता दें की कोहली की कप्तानी में बेंगलुरु सिर्फ एक बार ही फाइनल में पहुँच पायी है। क्रिकेट के दिग्गज बल्लेबाज नॉकआउट मुकाबलों में अक्सर सस्ते में अपना विकेट गँवा बैठते हैं। इस हार के बाद गौतम गंभीर ने कड़ी टिपण्णी (Gambhir on Kohli Captaincy) की है।

यह भी पढ़ें : – नाबालिग लड़की से दोस्ती कर रिजवान ने तीन दोस्तों के साथ किया गैंगरेप, अश्लील वीडियो के जरिये 1 महीने रोज करता था गैंगरेप

अपनी कप्तानी में कोलकाता नाईटराइडर्स को 2 बार IPL का खिताब दिलाने वाले पूर्व कप्तान गौतम गंभीर ने क्रिकइन्फो से लाइव इंटरव्यू में कहा – अब विराट कोहली को आगे आकर हार की जिम्मेदारी लेनी होगी। कोहली 8 सालों से कप्तानी कर रहे हैं, इसके बाद भी उन्होंने एक भी खिताब नहीं जीता है। कप्तानी से हटाए जाने के सवाल पर गंभीर ने कहा – अगर वह फ्रेंचाइजी के प्रभारी होते तो 100 प्रतिशत कोहली को कप्तानी से हटा चुके होते। 8 साल का समय काफी लंबा वक्त होता है।

यह भी पढ़ें : – बलात्कार का दर्द नहीं सह सकी 9 साल की बच्ची, दुष्कर्म के दौरान हुई मौत उसके बाद भी कई बार बलात्कार किया चाचा ने

Gambhir on Kohli Captaincy

गंभीर ने आगे कहा – मुझे एक भी ऐसा कप्तान का नाम बताएं, जिसने एक भी खिताब नहीं जीता हो और टीम में बना हुआ हो। कई कप्तान बेहतर परिणाम देने के बाद भी कप्तानी गँवा चुके हैं। एक कप्तान के तौर पर आपको जवाबदेही लेनी होगी। हम कप्तानी के लिए धोनी और रोहित शर्मा के बारे में बात करते हैं। परन्तु कोहली के बारे में नहीं, धोनी (3 बार), रोहित शर्मा (4 बार) टीम को खिताब दिला चुके हैं। यही वजह है की वह लम्बे समय से टीम के कप्तान बने हुए हैं।

यह भी पढ़ें : – 14 वर्षीया लड़की हाथ जोड़कर छोड़ देने की लगाती रही गुहार, तीनों युवक रह-रहकर सारी रात करते रहे गैंगरेप, बेसुध हुई तो चौराहे पर छोड़ा

आप भारत के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में शुमार सौरव गांगुली का उदाहरण ले सकते हैं। अनुकूल परिणाम नहीं मिलने पर कोलकाता ने उन्हें भी टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया था। बात कप्तानी की नहीं है, लेकिन अगर सफलता मिलने पर कप्तान को वह-वही मिलती है, फिर उन्हें आलोचना के लिए भी तैयार रहना चाहिए।

Loading...

संबंधित ख़बरे

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Loading...