30 C
Patna
April 19, 2021
ipl 2021 क्रिकेट खेल

IPL 2021 का खिताब जीतने के लिए इन कमियों को दूर करना होगा राजस्थान रॉयल्स को, विदेशी खिलाड़ियों पर निर्भरता ले डूबेगी..

rajsthan royals weak point in ipl 2021

क्रिकेट। IPL 2021 शुरू होने में कुछ ही दिन शेष बचे हैं, ऐसे में आईपीएल की सभी टीमें अपनी तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटी हुई है। IPL के पहले सीजन की विजेता राजस्थान रॉयल्स की टीम इस बार खिताब जीतने के लिए बेताब है। हालांकि उनके खिताबी जीत की राह में कई रोड़े हैं, जिनसे पार पाए बिना ख़िताब जीत पाना राजस्थान के लिए एक सपना (Rajsthan royals weak point in ipl 2021) ही साबित होगा। राजस्थान की सबसे बड़ी खामी उसका टीम संयोजन है, भारतीय खिलाड़ियों से ज़्यादा विदेशी खिलाड़ियों पर टीम की निर्भरता सबसे ज़्यादा नुक्सान पहुंचाती है। IPL 2021 में राजस्थान नए कप्तान संजू सैमसन तथा क्रिकेट निदेशक कुमार संगकारा की नई जोड़ी के साथ शुरुआत करेगा।

यह भी पढ़ें : – धोनी को मात देने के लिए ऋषभ पंत खतरनाक योजना की तैयारी के साथ उतरेंगे पहले मुकाबले में धोनी को हराने के लिए….

Rajsthan royals weak point in ipl 2021

राजस्थान रॉयल्स ने IPL 2021 के लिए स्टीव स्मिथ को टीम से हटाकर संजू सैमसन को नया कप्तान नियुक्त किया है। साथ ही कोच एंड्रयू मैकडोनाल्ड को बाहर करके श्रीलंका के पूर्व महान क्रिकेटर कुमार संगकारा को क्रिकेट निदेशक बनाया गया है। गेंदबाजी में देखा जाए तो तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर बेहद घातक साबित होते हैं, परन्तु चोट की वजह से वह शुरूआती मुकाबले नहीं खेल सकेंगे। आर्चर का साथ निभाने के लिए राजस्थान ने दक्षिण अफ्रीका के आलराउंडर क्रिस मौरिस को 16 करोड़ 25 लाख रुपये की भारी भरकम राशि में खरीदा।

यह भी पढ़ें : – 15 साल की लड़की के साथ 18 युवकों ने 9 दिनों तक किया गैंगरेप, दर्द देने के लिए खेत और होटल में दर्जनों युवक एक साथ..

हालांकि अगर राजस्थान रॉयल्स की बल्लेबाजी क्रम की बात की जाए तो यह कागजों पर बेहद मजबूत नज़र आती है। डेविड मिलर और मौरिस के रूप में टीम के पास दो आक्रामक बल्लेबाज है। इनके अलावा राहुल तेवतिया भी हैं, जिन्होंने पिछले सीजन में अपनी तेज तर्रार पारियों से टीम को कई हारे हुए मैच में जीत दिलाई। जोस बटलर और बेन स्टोक्स के रूप में इनका मध्यक्रम बेहद संतुलित नज़र आता है। टीम के नए कप्तान संजू सैमसन को अपने प्रदर्शन में निरंतरता लानी होगी।

यह भी पढ़ें : – क्रुणाल पांड्या की धमाकेदार बल्लेबाजी देखकर खुश हुए लक्ष्मण बोले – पिता को सबसे ज्यादा गर्व हो रहा होगा

राजस्थान रॉयल्स की टीम की सबसे कमजोर कड़ी उनका टीम संयोजन है। राजस्थान विदेशी खिलाड़ियों पर जरुरत से ज़्यादा निर्भर है, टीम में अधिकतम 4 विदेशी खिलाड़ी शामिल करने के नियम की वजह से टीम कमजोर हो जाती है। भारतीय खिलाड़ियों ने राजस्थान के लिए निरंतर बेहतर प्रदर्शन नहीं किया है। तेज गेंदबाज जयदेव उनादकट टीम के लिए बेहद मंहगे साबित होते हैं, इसके बाद भी उन्हें टीम में रखना समझ से परे है।

Loading...

संबंधित ख़बरे

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Loading...