30 C
Patna
June 13, 2021
क्रिकेट खेल

धोनी की जगह अगर मैं कप्तान होता तो भारत नहीं जीत पाता टी20 विश्व कप, सहवाग ने किया बड़ा खुलासा

sehwag statement on dhoni captaincy

क्रिकेट। टीम इंडिया के धाकड़ बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग ने 2007 टी20 वर्ल्ड कप जीतने को लेकर बड़ा खुलासा किया है। धोनी की कप्तानी को लेकर सहवाग ने कई बड़े खुलासे किये हैं। हालांकि मीडिया में धोनी और सहवाग के बीच मन-मुटाव की खबरें अक्सर आती रहती है। इसके बावजूद सहवाग धोनी की कप्तानी की तारीफ़ करने से कभी पीछे नहीं हटते। सहवाग आज भी मानते हैं की धोनी जैसा कप्तान (Sehwag statement on Dhoni captaincy) टीम इंडिया को मिलना मुश्किल है। साथ ही आईपीएल की फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपरकिंग भाग्यशाली है जो उसे धोनी जैसा कप्तान मिला। सहवाग ने आगे कहा – 2007 टी20 विश्व कप में अगर मैं टीम का कप्तान होता, तो शायद ही भारत विश्व कप जीत पाता।

यह भी पढ़ें : – IPL 2021 में खेल रहे न्यूजीलैंड के इस खिलाड़ी को हुआ कोरोना, न्यूजीलैंड नहीं जा पायेगा चेन्नई के अस्पताल में होगा इलाज

Sehwag statement on Dhoni captaincy

क्रिकबज के एक शो में वीरेंदर सहवाग ने कहा – महेंद्र सिंह धोनी जैसा कप्तान किसी भी टीम को मिल पाना बहुत मुश्किल है। फिर चाहे टीम इंडिया हो या फिर चेन्नई सुपरकिंग्स। धोनी की कप्तानी की बात ही अलग है, वह मैदान पर कई बार ऐसे फैसले ले लेते हैं, जो किसी की भी सोच से परे होता है। सबसे बड़ी बात यह है की धोनी की किस्मत भी उनके लिए गए फैसलों का खूब साथ निभाती है। 2007 टी20 विश्व कप के फाइनल को ही देख लें, अगर मैं कप्तान होता तो आखिरी ओवर निश्चित तौर पर अनुभवी हरभजन सिंह को देता। मगर धोनी ने हरभजन से नहीं एक नए गेंदबाज को आखिरी ओवर में गेंद थमा दी।

यह भी पढ़ें : – मामा के घर जा रही युवती को सरेआम घर में खींच कर किया बलात्कार, किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी देकर घर से भगाया

गेंदबाज ने भी कप्तान के भरोसे को नहीं तोडा और मिस्बाह को आउट कर विश्व कप भारत की झोली में डाल दिया। सहवाग ने आगे कहा – आप देखते होंगे की एक साधारण गेंदबाज भी धोनी की कप्तानी में शानदार प्रदर्शन करने लगता है। दरअसल गेंदबाज की सफलता के पीछे धोनी की सलाह अहम् रोल निभाती है। वह विकेट के पीछे से गेंदबाजों को लगातार गाइड करते रहते हैं। धोनी दुनिया के इकलौते कप्तान हैं, जिन्होंने आईसीसी की (2007 टी20 वर्ल्ड कप, 2011 वर्ल्ड कप और 2013 चैंपियंस ट्रॉफी) तीनों ही ट्रॉफियां जीती है।

Loading...

संबंधित ख़बरे

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Loading...