30 C
Patna
October 21, 2020
क्रिकेट खेल

भारतीय क्रिकेट में कोरोना ने दी दस्तक, सौरव गांगुली के भाई को हुआ कोरोना, कैब अध्यक्ष डालमिया और दादा हुए क्वारंटाइन

sourav ganguly brother infected with corona virus

क्रिकेट। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCIC) के अध्यक्ष सौरव गांगुली (Saurav Ganguly) के बड़े भाई स्नेहाशीष गांगुली कोरोना वायरस की चपेट में आ गए हैं। जांच में कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि होने के बाद स्नेहाशीष को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जिसके बाद सौरव गांगुली अपने घर में ही क्वारंटाइन हो गए हैं। परिवार के और सदस्यों को भी घर में ही क्वारंटाइन (Sourav ganguly brother infected with corona virus) किया गया है। इससे पहले भी एक बार स्नेहाशीष की कोरोना पॉजिटिव होने की ख़बरें सामने आयी थी। लेकिन वह महज अफवाह साबित हुयी थी। आपको बता दें की सौरव गांगुली और स्नेहाशीष गांगुली एक ही घर में अलग – अलग फ्लोर पर रहते हैं। इससे पहले पिछले महीने स्नेहाशीष की पत्नी और उनके सास-ससुर कोरोना संक्रमित पाए गए थे।

यह भी पढ़ें : – धोनी ने जितनी भी सफलता हासिल की, इस खिलाडी के बिना नामुमकिन था, गौतम गंभीर ने बताया उस खिलाड़ी का नाम

Sourav ganguly brother infected with corona virus

कुछ दिनों पहले एक इंटरव्यू में सौरव गांगुली ने कहा भी था, की मेरे भैया (स्नेहाशीष गांगुली) हमारी फैक्ट्रियों का लगभग प्रतिदिन दौरा करते हैं। जिसकी वजह से हमारे घर में कोरोना के चपेट में आने सबसे ज़्यादा ख़तरा भैया को है। स्नेहाशीष गांगुली के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद ईडन गार्डेंस स्टेडियम में स्थित कैब मुख्यालय को अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया है। फिलहाल सभी कर्मचारियों को घर से ही काम करने के लिए कहा गया है। आपको बता दें की स्नेहाशीष गांगुली क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल (सीएबी) के संयुक्त सचिव पद पर कार्यरत हैं।

यह भी पढ़ें : – अमानवीयता – दवा दूकान के सामने 5 घंटे तक पड़ा रहा शव, कोरोना संक्रमण के डर से किसी ने हाथ भी नहीं लगाया

स्नेहाशीष गांगुली घरेलु क्रिकेट में रणजी स्तर तक के खिलाड़ी रह चुके हैं। पूर्व भारतीय कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज सौरव गांगुली को क्रिकेट खेलने के लिए प्रेरित करने वाले उनके बड़े भाई स्नेहाशीष गांगुली ही थे। हालांकि स्नेहाशीष कभी भी भारतीय क्रिकेट टीम में अपनी जगह नहीं बना सके। वह बाएं हाथ के बल्लेबाज तथा ऑफ ब्रेक गेंदबाज के तौर पर खेलते थे। उन्होंने कोलकाता और बंगाल के लिए 59 रणजी मुकाबले खेले हैं। जिसमे 6 शतक और 11 अर्धशतक की मदद से 2534 रन बनाये हैं। इस दौरान उनका निजी उच्चतम स्कोर 158 रहा। बतौर गेंदबाज 2 विकेट अपने नाम किये हैं।

Loading...

संबंधित ख़बरे

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Loading...