30 C
Patna
January 15, 2021
खेल

स्टार फुटबॉलर डिएगो माराडोना का निधन, 60 वर्ष की उम्र में हार्ट अटैक से हुई मौत, गांगुली ने जताया दुःख

Diego Maradona Passes Away

पटना। आर्जेंटीना को अपनी कप्तानी में दूसरी बार विश्व कप जीताने वाले स्टार फुटबॉल खिलाड़ी डिएगो माराडोना का निधन हो गया। आर्जेंटीना की मीडिया के मुताबिक़ माराडोना का निधन हार्ट अटैक से हुई है। वह पिछले कई सप्ताह से बीमार चल रहे थे। माराडोना ने 60 वर्ष की उम्र में अंतिम सांस ली। माराडोना के निधन (Diego Maradona Passes Away) की खबर फैलते ही, शोक सन्देश का सैलाब फुट पड़ा। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के वर्तमान अध्यक्ष सौरव गांगुली ने ट्वीट कर लिखा है। मेरे हीरो इस दुनिया में नहीं रहे, आपकी वजह से मैं फुटबॉल देखा करता था, परन्तु अब वह वजह ख़त्म हो गयी।

यह भी पढ़ें : – हैवानियत – मासूम बेटे के ऊपर महिला को लिटाकर 7 हैवानों ने किया सामूहिक बलात्कार, बच्चे को बचाने के लिए गिड़गिड़ाती रही महिला, दम घुटने से हुई मौत

Diego Maradona Passes Away

डिएगो माराडोना को सर्वकालिक महान फुटबॉल खिलाड़ियों में नाम लिया जाता है। अपनी कप्तानी में आर्जेंटीना को 1986 वर्ल्ड कप में खिताब दिलाया था। इस दौरान उनके किये गए दो गोल, फुटबॉल इतिहास के सुनहरे गोल के रूप में दर्ज हो गए। माराडोना किस कद के खिलाड़ी थे, इसी से समझा जा सकता है, की उनकी 9 फीट की ऊंची प्रतिमा आर्जेंटीना के ब्यूनस आयर्स में लगाई गयी है। इस प्रतिमा में उस गोल को दर्शाया गया है, जिसे 20वीं सदी का सर्वश्रेष्ठ गोल चुना गया था।

यह भी पढ़ें : – बेहोश होने तक 11 लड़कों ने किया गैंगरेप, दोस्त के साथ सम्बन्ध बनाने में मशगूल लड़की को घसीटते हुए ले गए फिर किया ….

डिएगो माराडोना ने 1976 में फुटबॉल के मैदान में कदम रखा था। उसके बाद अपने शानदार खेल की बदौलत दुनिया भर के फुटबॉल प्रेमियों के दिल में अपने लिए विशेष जगह बना ली। आज मराडोना के असमय निधन होने से उनके प्रशंषकों में शोक की लहर दौड़ गयी है। सोशल मीडिया पर लोग भारी मन से अपने हीरो को आखिरी विदाई दे रहे हैं। इस कड़ी में भारतीय क्रिकेट के दिग्गज कप्तान सौरव गांगुली ने भी दुःख जताया है। गांगुली ने लिखा – मेरे हीरो चले गए, आपकी वजह से मैं फुटबॉल देखा करता था। अब वह वजह नहीं रही, आपकी कमी हमेशा खलेगी।

यह भी पढ़ें : – हैवानियत – शौच करने गयी महिला के साथ बलात्कार की कोशिश, विरोध करने पर हंसिया से निकाल दी आँखें

1986 वर्ल्ड कप में इंग्लैण्ड के खिलाफ हाथ से किया गए गोल को कोण फुटबॉल प्रेमी भुला सकता है। बाद में उस करिश्माई गोल को ‘हैंड ऑफ गॉड’ यानी ईश्वर का हाथ करार दिया गया था। माराडोना ने 94 मुकाबले खेले जिसमे उन्होंने 34 गोल किये। वह एक सफल खिलाड़ी के साथ-साथ बेहतरीन कोच भी थे।

Loading...

संबंधित ख़बरे

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Loading...