30 C
Patna
July 16, 2020
देश नई दिल्ली मुख्य समाचार राजनीती राज्य समाचार

दिल्ली में यमुना किनारे जमा सैकड़ों लोगों को सीएम के आदेश पर शेल्टर होम भेजा गया, रहने, खाने और पीने की व्यवस्था की गयी

Lockdown extension effect in Delhi

नई दिल्ली। विश्व भर में तबाही मचा रहे कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए कई देशों में लॉकडाउन लगाया गया है। इससे बचाव के लिए भारत में भी दो बार लॉकडाउन लगाया जा चुका है। भारत में पहला लॉकडाउन 21 दिनों (Lockdown extension effect in Delhi) के लिए लगाया गया था, जो 15 अप्रैल को समाप्त हो रहा था। लेकिन इसके बाद भी कोरोना संक्रमण पर पूरी तरह से काबू पाने में सफलता नहीं मिलने पर, लॉकडाउन को 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया है। लॉकडाउन की वजह से लोग घरों में कैद होने पर मजबूर हैं। इस बीच राजधानी दिल्ली में यमुना के किनारे सैकड़ों की संख्या में बेघर मजदुर किसी तरह से दिन काट रहे हैं। मामले की जानकारी मिलने पर सीएम केजरीवाल के आदेश पर सभी मजदूरों को शेल्टर होम में भेज दिया गया है। जहां उनके रहने, खाने और पीने की व्यवस्था की गयी है।

यह भी पढ़ें :- लॉकडाउन – बिना वजह घर से बाहर निकलने पर होगी 3 साल की जेल, 24 घंटे के अंदर चार्जशीट दाखिल की जायेगी

न्यूज एजेंसी एएनआइ की रिपोर्ट के मुताबिक़ कुछ बेघर मजदुर कश्‍मीरी घाट पर जमा हैं। उन्हें खाने के लिए फल तथा अन्य जरुरी सामान देकर शेल्टर होम में भेजा जा रहा है। कोरोना संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना बेहद जरुरी है। इसके लिए उन्हें सुरक्षित जगहों पर भेजा जा रहा है।

Lockdown extension effect in Delhi

यह भी पढ़ें : – घरेलु कलह से तंग आकर माँ ने आपमें मासूम बच्चों को धारदार हथियार से काटने के बाद खुद को भी किया घायल, तीनों की स्थिति गंभीर

गौरतलब है की बेघर लोगों के रहने के लिए दिल्ली के सरकारी स्कूलों को शेल्टर होम के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है। यहां लोगों के रहने, खाने और पीने की व्यवस्था की गयी है। दिल्ली में इससे पहले भी भीड़ इकट्ठा होने की वजह से लॉकडाउन का उल्लंघन हुआ था। एक बार फिर से यमुना के किनारे जमा हुए सैकड़ों बेघर मजदूरों की वजह से लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ गयी। कोरोना से बचाव के लिए लोगों के बीच शारीरिक दुरी बनाये रखना अनिवार्य कर दिया गया है। साथ ही घरों में रहने, बार-बार हाथ धोने की लोगों से बार-बार अपील की जा रही है। ऐसे में बेघर लोग बदबू और कचरे में ज़िन्दगी काटने के लिए मजबूर हो रहे थे। हालांकि सीएम केजरीवाल के आदेश के बाद यमुना किनारे जमा सभी बेघर लोगों को शेल्टर होम में शिफ्ट किया गया है।

Loading...

संबंधित ख़बरे

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Loading...