30 C
Patna
September 20, 2020
Business बिजनेस बिहार मुख्य समाचार राज्य समाचार

बैंक हड़ताल का असर – दूसरे ही दिन खाली हुआ एटीएम, पैसे के लिए भटकते रहे लोग

bank strike in bihar

पटना। बैंककर्मियों के देशव्यापी हड़ताल की वजह से लगातार दूसरे दिन बैंकों का कामकाज ठप्प रहा, जिससे राज्य को काफी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ा। हड़ताल की वजह से ग्राहक भी दिन भर परेशान रहे, हड़ताल (Bank strike in bihar) के दूसरे दिन ही शहर के अधिकांश एटीएम खाली हो गए, जिससे पैसे की निकासी के लिए ग्राहक एटीएम की तलाश में भटकते रहे। इधर पुरे दिन बैंककर्मियों का धरना प्रदर्शन चलता रहा, कल रविवार होने की वजह से बैंक बंद रहेंगे। हालांकि एसबीआई के कुछ शाखा में रविवार को भी कार्य किया जाएगा, इस हड़ताल में ग्रामीण विकास बैंक के कर्मचारी शामिल नहीं हुए।

यह भी पढ़ें : – नाबालिग लड़की को अगवा कर 4 युवकों ने 3 दिनों तक किया सामूहिक दुष्कर्म, खुर्शीद के घर से लड़की बरामद

Bank strike in bihar

स्टेट बैंक स्टाफ एसोसिएशन के महासचिव संजय कुमार सिंह के मुताबिक़ दो दिन के हड़ताल से बिहार और झारखंड में 50 हजार करोड़ के करीब बैंक व्यवसाय ठप्प रहा। उन्होंने हड़ताल सफल रहने का दावा भी किया, इस हड़ताल में बिहार-झारखंड मिलाकर करीब 45 हजार कर्मचारी शामिल हुए। उन्होंने आगे कहा 17 फ़रवरी को केंद्रीय नेतृत्व बात करेगा, अगर उसके बाद भी हमारी मांगे पूरी नहीं हुई तो, 11,12 और 13 मार्च को फिर से बैंककर्मी देशव्यापी हड़ताल करने पर बाध्य होंगे। इसके बाद भी हमारी मांगे पूरी नहीं की गयी तो 1 अप्रैल को अनिश्चितकालीन हड़ताल (Bank strike in bihar) पर चले जाएंगे।

यह भी पढ़ें : – दोस्त ने छात्रा को मिलने बुलाया, कार में 3 घंटे तक गैंगरेप बेहोश होने पर अर्धनग्न लड़की को फेंक दिया

दरअसल बैंककर्मी वेतन पुनरीक्षण के तहत कुल वेतन पर 20 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी, पांच दिवसीय बैंकिंग कार्य, स्टाफ वेलफेयर फंड का निर्धारण ऑपरेटिंग लाभ, विशेष भत्ता का मूल वेतन में समाहरण, सेवानिवृृत्ति पर मिलने वाले लाभांश पर आयकर में छूट, न्यू पेंशन योजना की समाप्ति, पेंशन में बढ़ोत्तरी, कांट्रैक्ट कर्मियों के लिए समान कार्य के बदले समान वेतन की मांग कर रहे हैं।

Loading...

संबंधित ख़बरे

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Loading...