30 C
Patna
June 13, 2021
उत्तर प्रदेश मुख्य समाचार राज्य समाचार

वृद्ध दम्पति की भूख से हुई मौत, खांसी होने पर बेटे और पड़ोसियों ने बना ली दुरी, अपनों की बेरुखी ने मौत का रास्ता दिखाया

sad story of old couple

कानपुर। घाटमपुर के हथेरुआ गांव में एक वृद्ध दंपत्ति की मौत ने इंसान का बेहद खौफनाक चेहरा सामने लाकर रख दिया है। जिस बेटे से उम्मीद की जाती है, की जीवन के आखिरी पड़ाव में सहारा बनेगा, उसने भी अपने माता-पिता को भूखे मरने (Sad story of old couple) के लिए छोड़ दिया। करीब 15 दिन से बीमार दंपत्ति की किसी ने भी खोज-खबर लेने की जरुरत नहीं समझी, जब बहुत दिनों से वृद्ध दंपत्ति नज़र नहीं आये तो ग्रामीण उनके घर पहुंचे। दीवाल फांदकर घर के अंदर पहुंचे तो वहाँ का दृश्य देखकर कलेजा बाहर आ गया। वृद्ध दंपत्ति के शव को देखकर आंसू निकल आये।

यह भी पढ़ें : – 18 वर्षीया साली और सास के शव के साथ किया बलात्कार, अवैध सम्बन्ध के शक में पत्नी समेत सास और साली को दी दर्दनाक मौत

Sad story of old couple

वृद्ध दंपत्ति की बहु साधना ने बताया की बाबा मुरली और दादी रामदेवी को पांच दिन पहले खांसी के साथ हल्का-हल्का बुखार हो गया था। बुखार और खांसी की बात गाँव में फैलने के बाद सभी ने बुजुर्ग दंपत्ति से दुरी बना ली। बताया जाता है की दंपत्ति का बेटा और बहु ने भी दुरी बना ली, बुजुर्ग माता-पिता कैसे हैं, खाना खाया है या नहीं इसकी भी सुध लेना जरुरी नहीं समझा। कई दिनों तक बीमार रहने तथा अपनों की बेरुखी सहने के बाद अंततः बुजुर्ग दंपत्ति ने दम तोड़ दिया।

यह भी पढ़ें : – 6 और 7 साल की सगी मासूम बहनों के साथ युवक ने किया बलात्कार, बेहोश होने पर दूसरी बहन के साथ भी किया बलात्कार, होश आने पर खून से लथपथ…

मंगलवार की सुबह वृद्ध दंपत्ति की बहु साधना जब उनके घर पहुंची तो किसी ने भी दरवाजा नहीं खोला। गाँव से लड़कों को बुलाने पर दीवाल फांदकर अंदर घुसे तो वहाँ का दृश्य देखकर दहल उठे। बाहर चारपाई पर वृद्ध दंपत्ति का शव पड़ा हुआ था, थोड़ी ही दूर पर पानी लेने के लिए बर्तन हाथ में लिए वृद्धा का शव पड़ा हुआ था। संभावना जताई जा रही है, की बिमारी की वजह से बुजुर्ग दंपत्ति खाना नहीं बना पा रहे थे। अंततः भूख से तड़प-तड़प कर दोनों की मौत हो गई।

Loading...

संबंधित ख़बरे

Leave a Comment

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Loading...